Today’s Ravan – Casual Misandry 03

Please Share :

Today’s Ravan – Casual Misandry 03

घर चलाने एवं पैसा कमाने की जिम्मेदारी पुरुषों की है

जब घर चलाने और कमाने की बात आती है भारतीय समाज आज भी पूरी जिम्मेदारी पुरुषों की मान कर चलता है | महिलाओं को शिक्षा के एवं नौकरी के उचित बल्कि यह कहना उचित होगा की पुरुषों से बेहतर साधन उपलब्ध हैं (सरकारी एवं गैर सरकारी संस्थाएं जितनी बड़ी संख्या मैं महिला शिक्षा के लिए काम कर रही है क्या उतने साधन पुरुषों के लिए उलब्ध हैं ?) महिला शिक्षा का मकसद समाज की नज़र मैं शायद इतना ही समझ आता है की अच्छे शिक्षित घर मैं शादी | इस सोच का जवलंत उद्धरण भारत की अदालतों मैं हर रोज़ दिखाई देता है जहां भरण पोषण महिला का अधिकार मान लिया जाता है बिना यह जाने की वास्तव मैं गलत कौन है न है यह देखा जाता है की महिला खुद अपना भरण पोषण करने के काबिल है या नहीं

क्या समाज इस रावण को मार पायेगा

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*